प्रकृति में हर कार्य की एक व्यवस्था है ,प्रकृति के अपने नियम हैं |प्रकृति हम को आगामी समय का संके.....
 
परिवार के आगामी समय लिए अशुभ संकेत है ये घटनाएं !!!!
प्रकृति में हर कार्य की एक व्यवस्था है ,प्रकृति के अपने नियम हैं |प्रकृति हम को आगामी समय का संकेत देती है |समय शुभ है ,शुभ आने वाला है |अशुभ है या अशुभ समय आने वाला है ,इसका संकेत भी प्रकृति सदैव देती है |हमारे घर -परिवार पर व्याप्त सकारात्मक अथवा नकारात्मक उर्जाये ऐसी घटनाएं घटाती है जो आगामी समय की सूचक होती है |अगर इन पर सावधानी से ध्यान दें और समय रहते सचेत हो उपाय करें तो आगामी कष्ट से बचा जा सकता है |इस हेतु प्रकृति के इन संकेतों को समझना चाहिए | बिना किसी कारण के भोजन नीचे जमीन पर गिरता है तो, यह संकेत शुभ नहीं होता है, समझ लो कि धन हानि या दरिद्रता का आगमन होने वाला है.| अशुभ संकेत १:- घर के परिसर में बिल्ली या बिलाव का रोना या आपस में झगड़ा करना विपत्ति या घर में क्लेश का सूचक है. २:- यदि घर के मुख्य द्वार से सांप का प्रवेश होता है तो, यह गृहस्वामी या गृहस्वामिनी के स्वास्थ्य के लिए ठीक नहीं होता है. ३:-यदि घर में कोई चोट खाया या घायल पक्षी या उसका कोई काटा हुआ अंग आँगन में गिरता है तो, समझ लीजिए कि महासंकट आने वाला है. ४:- घर में यदि कुतिया प्रसव करती है तो यह गृहस्वामी के लिए अच्छा संकेत नहीं है, इसके कारण शत्रु की वृद्धि होती है तथा अपने ही परिवार में मतभेद होने लगते है. ५:- यदि घर में कौवा, गिद्ध, चील या कबूतर नित्य बैठते है और छह मास तक लगातार निवास बनाए हुए है तो गृहस्वामी पर नाना प्रकार की विपत्ति आने का सूचक होता है. ६:- यदि घर में काले रंग के चूहे बहुत अधिक तादाद में दिन और रात भर घूमते रहते हो तो, समझ लीजिए कि किसी रोग या शत्रु का आक्रमण होने वाला है. ७:- यदि घर की छत पर, दीवार पर या घर के किसी भी कोने में लाल रंग की चींटिया घुमती या रेंगती हुई दिखाई दे, तो समझ लीजिए कि संपत्ति का क्षय होता है. या संपत्ति का कोई नुक्सान हो जाता है. और यदि पंख वाली चींटियां हो तो घर में बिना किसी कारण के क्लेश की स्थिति उत्पन्न होने लगती है. ८:- यदि पालतू गाय अपना दूध पीती हो या अत्यधिक सिर हिलाती हो, तो घर के गृहस्वामी के ऊपर कर्ज बढ़ता है और भाग्य खराब होने लगता है. ९:- यदि किसी खुशी के कार्य पर घर में आग लग जाय तो धन हानि की संभावना बन जाति है. १०:- यदि घर में बने मंदिर की कोई मूर्ति या चित्र अपने आप खंडित या जल जाए, या जमीन पर हाथ से छूट कर टूट जाए तो, यह संकेत पूरे परिवार के लिए शुभ नहीं होता तथा इसके कारण समाज में मां हानि और कलंक लगता है. घर में विवाह आदि शुभ कार्यों में अनावश्यक बाधाओं का सामना करना पडता है. ११:- यदि घर में रसोई का प्लेटफार्म का चटकना या टूटना, चाकले का टूटना या तड़क जाना दरिद्रता की निशानी होती है. १२:- यदि घर में दूध बार बार जमीन पर गिरता हो, किसी भी कारण से तो घर में क्लेश और विवाद की स्थिति बनती है. १३:- यदि सुबह के समय या शाम के समय कौवा मांस या हड्डी लाकर गिराता है तो, समझ लीजिए कि अमंगल होने वाला है और बिमारी, चोट आदि पर धन खर्च होगा. १४:- यदि कोई भी पक्षी घर में किसी भी समय कोई लोहे का टुकड़ा गिराता है तो, यह अशुभ संकेत होता है जिसके कारण अचानक छापा या कारावास होने की पूरी पूरी संभावना बनने लगती है. १५:- यदि जिस दिन नए घर में प्रवेश करना हो तो, उसी दिन सूर्योदय के समय कोई भी पशु रोता है तो उस दिन गृह प्रवेश टाल दें यह संकेत शुभ नहीं होता है घर में प्रवेश करते ही दुःख आरम्भ हो जायेंगे. १६. बिना किसी कारण के भोजन नीचे जमीन पर गिरता है तो, यह संकेत शुभ नहीं होता है, समझ लो कि धन हानि या दरिद्रता का आगमन होने वाला है|Posted at 30 Oct 2018 by admin
FACEBOOK COMMENTES
  Share it --