जो पूरब में सिर कर सोता, बुद्धि बढ़ाता ज्ञानी होता | जो दक्षिण में सिर कर सोता, तन का बल दीघार्यु स.....
 
दिशाबोध का लाभ
जो पूरब में सिर कर सोता, बुद्धि बढ़ाता ज्ञानी होता | जो दक्षिण में सिर कर सोता, तन का बल दीघार्यु संजोता | मस्तक पशि्चम कर जो सोता, चिन्ताओं में पड़ कर सोता | जो उत्तर में सिर कर सोता, लाभ और जीवन को खोता | पूर्व मुखी जो खाना खाता, वह लम्बा जीवन पाता | जो दक्षिण मुख होकर खाता, भारी नाम बड़ाई पाता | शौच और लघु शंका जाओ, उत्तर-दक्षिण मुख को आओ | पूर्व मुखी हो सदा नहाओ, मंजन पशि्चम मुख कर आओ | पूवोर्त्तर मुख जाप सम्हारो, श्वेत वस्त्र उत्तर मुख धारो | पढ़ने उत्तर मुख हो जाओ, भोजन दक्षिण मुख न पकाओ |Posted at 30 Oct 2018 by admin
FACEBOOK COMMENTES
  Share it --