1. तुलसी जी को नाखूनों से कभी नही तोडना चाहिए,नाखूनों के तोडने से पाप लगता है। 2.सांयकाल के बाद तुल.....
 
तुलसी जी को तोडने से पहले वंदन करो।
1. तुलसी जी को नाखूनों से कभी नही तोडना चाहिए,नाखूनों के तोडने से पाप लगता है।
2.सांयकाल के बाद तुलसी जी को स्पर्श भी नही करना चाहिए ।
3. तुलसी जी भगवान् की बहुत प्रिय है इसलिए भगवान् तुलसी के भी भोग ग्रहण नही करते ।
4. जो स्त्री तुलसी जी की पूजा करती है, उनका सौभाग्य अखण्ड रहता है । उनके घर सत्पुत्र का जन्म होता है ।
5. द्वादशी के दिन तुलसी को नही तोडना चाहिए ।
6. सांयकाल के बाद तुलसी जी लीला करने जाती है।
7. तुलसी जी वृक्ष नही है! साक्षात् राधा जी का अवतार है ।
8. तुलसी के पत्तो को चबाना नहीं चाहिए

अर्थात-
तुलसी को कभी पेड़ ना समझें गाय को पशु समझने की गलती ना करें और गुरू को कोई साधारण मनुष्य समझने की भूल ना करें, क्योंकि ये तीनों ही साक्षात भगवान रूप हैं"Posted at 23 Apr 2020 by admin
FACEBOOK COMMENTES
  Share it --