यदि चाहते हुए वैवाहिक सुख नहीं मिल पा रहा है, हमेशा पति-पत्नि में किसी बात को लेकर अनबन रहती हो तो.....
 
दांपत्य सुख
यदि चाहते हुए वैवाहिक सुख नहीं मिल पा रहा है, हमेशा पति-पत्नि में किसी बात को लेकर अनबन रहती हो तो किसी भी शुक्रवार के दिन यह उपाय करें। मिट्टी का पात्र ले जिसमें सवा किलो मशरूम आ जाएं। मशरूम डालकर अपने सामने रख दें। पति-पत्नि दोनों ही महामृत्युंजय मंत्र की तीन माला जाप करें। तत्पश्चात इस पात्र को मां भगवती के श्री चरणों में चुपचाप रखकर आ जाए। ऐसा करने से मां भगवती की कृपा से आपका दांपत्य जीवन सदा सुखी रहेगा

पति-पत्नी में विवाद आम बात है क्योंकि जहां प्यार होता है तकरार भी वहीं होती है। लेकिन कई बार ऐसा भी होता है पति बिना किसी बात के ही अपनी पत्नी पर गुस्सा करने लगते हैं और धीरे-धीरे यह उनका आदत बन जाती है। अगर आपके साथ भी यही समस्या है तो नीचे लिखा उपाय करें।

उपाय

जिस स्त्री का पति हर समय बिना बात के ही गुस्सा करता रहता है तो वह स्त्री शुक्ल पक्ष के प्रथम रविवार, सोमवार, गुरुवार या शुक्रवार को एक नए सफेद कपड़े में एक डली गुड़, चांदी एवं तांबे के दो सिक्के, एक मुट्ठी नमक व गेहूं को बांधकर अपने शयनकक्ष में कहीं ऐसी जगह छिपा कर रख दें। इसके प्रभाव से पति का गुस्सा धीरे-धीरे कम होने लगेगा।

उनके दिल में रहना है तो !

अगर पुरुष अपने साथी के साथ एक अच्छा रिश्ता कायम रखना चाहते हैं तो उनके लिए यह ज़रुरी हो जाता है कि वह महिलाओं की इच्छाओं और चाहतों को जानें. उन्हें मालूम होना चाहिए कि महिलाओं को क्या अच्छा लगता है. इसके अलावा पुरुष को यह भी ध्यान रखना चाहिए कि महिलाएं कभी भी उनसे अपनी इच्छाएं ज़ाहिर नहीं करेंगी. परन्तु अगर आप इन टिप्स को अपनाएं तो आप उन्हें खुश रख सकते हैं.

1. पुरुष जब भी महिलाओं से बात करें तो ध्यान दें कि ऐसा कुछ भी ना बोलें जिससे महिलाओं की भावनाओं को ठेस पहुंचे.

2. शादी शुदा मर्दों को ध्यान रखना चाहिए कि महिलाएं अगर खुश हैं तो इसका मतलब यह नहीं कि उनका मूड से*** करने का है.

3. महिलाएं बहुत संवेदनशील होती हैं. अतः पुरुषों को उनकी संवेदनशीलता का ध्यान रखना चाहिए.

4. महिलाओं को बातें करने का शौक होता है, उनसे जितनी भी बातें करो वह कभी नहीं थकतीं.

5. महिलाओं के दोस्तों के साथ भी आप शिष्टता से बर्ताव करें.

6. मौका मिले तो आप महिलाओं की जगह खुद खाना बनाएं.

7. अगर महिलाओं के साथ घूमने जाना है तो गाड़ी को तेज़ नहीं चलाना चाहिए.

8. कभी महिलाओं को अपने से नीचे ना समझें.

9. उन्हें प्यार दें.

10. और अंतिम बात खास तौर से ध्यान रहे कि महिलाओं से कभी झूठ न बोलें.

नए ज़माने का प्यार l Love of new generation

लैला–मजनू, हीर–राँझा प्यार की वह जब प्रेमी प्यार को पूजते थे. प्यार में पागल प्रेमी एक दूसरे को पाने के लिए बेताब थे और जीवन क्या मृत्यु के बाद भी वह एक-दूसरे का साथ निभाने की कसमें खाते थे.

अब जमाना बदल गया है. आजकल लोग प्यार में पागल नहीं होते. हम कह सकते हैं कि ज़माने के साथ-साथ प्यार करने के तरीके में बदलाव आया है. इसे हम कायापलट कहें या लोगों की मानसिकता का नया स्वरुप, बात तो इतनी है कि प्यार करने का ढंग बदल गया है

चूंकि प्यार की इबारत बार–बार लिखी जाती है तो आइए नज़र डालते हैं प्यार के नए स्वरुप पर.

• अपने साथी से अनुचित मांग न करें. एक दूसरे को समझना प्यार की सबसे बड़ी कुंजी होती है.

• कभी भी प्यार के रूल्स न ब्रेक करें क्योंकि प्यार का स्थायित्व भरोसा है.

• अगर प्यार में कोई अनबन हो तो उसे एक साथ सुलझाएं और कभी भी ऐसा लगे कि देर हो गयी है तो एक-दूसरे का साथ छोड़ने में देरी नहीं करनी चाहिए.

• प्यार में समझौता नहीं होता है.

• कभी भी अपने सबसे अच्छे दोस्त से इस बात पर प्यार ना करने लगें कि वह आपके सुख-दुःख के समय आपके साथ था. क्योंकि खुदा ना करे कि अगर आप दोनों के रिश्तों में कड़वाहट आई तो उस समय आप उससे आंख नहीं मिला सकते हैं.

• हमेशा अपने दिल की सुनें, क्योंकि दिल हमेशा सच्ची बात करता है.

• अत्यधिक सावधानी और धैर्य रिश्तों में मजबूती लाता है.

• एक दूसरे को समझने के लिए अधिक से अधिक समय लें, क्योंकि समय रिश्तों में मजबूती लाता है.

• और अंत में उसी से प्यार करें जो आपके अहंकार को झेल सके.
Posted at 23 Apr 2020 by admin
FACEBOOK COMMENTES
  Share it --